इस लेख में

द्वारा

Levan Putkaradze

गहरी वित्तीय पृष्ठभूमि वाला एक अनुभवी कॉपीराइटर और सुलभ, आकर्षक और मूल्यवान सामग्री तैयार करने की क्षमता। मैं इस क्षेत्र में आकर्षक सामग्री तैयार करके फिनटेक और क्रिप्टो की दुनिया के रहस्यों को उजागर करता हूं। मेरा मानना है कि हर जटिल अवधारणा, विचार और कार्यप्रणाली को समझने योग्य और रोमांचक तरीके से प्रस्तुत किया जा सकता है, और हर नए विषय के साथ उस तरीके को खोजना मेरा काम है। मैं लगातार खुद को ऐसी सामग्री तैयार करने के लिए चुनौती देता हूं जो अपने लक्षित दर्शकों के लिए अपरिहार्य मूल्य रखती है, जिससे पाठकों को बिना किसी परेशानी के तेजी से जटिल विचारों को समझने में मदद मिलती है।

और पढ़ेंLinkedin

शुद्धिकारक

Constantine Belov

एक कड़ी मेहनत करने वाले, लक्ष्य-उन्मुख और सर्वगुण संपन्न व्यक्ति के रूप में, मैं हमेशा अपने हर काम में गुणवत्तापूर्ण काम करने का प्रयास करता हूं। जीवन में चुनौतीपूर्ण कार्यों का सामना करते हुए, मैंने समस्याओं को हल करने के लिए तर्कसंगत और रचनात्मक रूप से सोचने की आदत विकसित की है, जो न केवल मुझे एक व्यक्ति के रूप में, बल्कि एक पेशेवर के रूप में भी विकसित होने में मदद करती है।

और पढ़ेंLinkedin
शेयर

ब्लॉकचेन वित्तीय उद्योग को कैसे प्रभावित करती है

आर्टिकल्स

Reading time

2009 में अपनी स्थापना के बाद से ही, ब्लॉकचेन तकनीक ने अपने नवीन गुणों के कारण वित्तीय बाजारों और उद्योगों में अपनी पहचान स्थापित की है। गति और सुरक्षा से लेकर पूरी तरह से गुमनाम और विकेंद्रीकृत प्रकृति के कारण, ब्लॉकचेन वित्त उद्योग में कई समस्याओं का स्पष्ट उत्तर प्रदान करती है।. 

वैश्विक वित्तीय प्रणाली तेजी से जटिल और बोझिल बनती जा रही है और इसमें तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप भी बढ़ रहे हैं। इसलिए, 2009 में ब्लॉकचेन समाधान वित्तीय बाज़ारों के लिए एक अविश्वसनीय उपहार के रूप में सामने आया। हालाँकि, 2023 तक, कई बाज़ारों में मंदी और क्रिप्टो दुनिया के बारे में आम तौर पर संदेहपूर्ण दृष्टिकोण के कारण ब्लॉकचेन को अपनाया जाना अपेक्षा से धीमा ही रहा है। 

आज, हम वित्त को ध्यान में रखते हुए ब्लॉकचेन के सर्वोत्तम गुणों और इसकी कई कमियों पर चर्चा करेंगे जो इस तकनीक को वित्तीय दुनिया के लिए एक आदर्श विकल्प बनने से रोकती हैं। 

मुख्य बातें

  1. ब्लॉकचेन तकनीक का आविष्कार वित्तीय और अन्य लेनदेन में तेजी लाने और इस प्रक्रिया को सरल बनाने के मिशन के साथ किया गया था। यह पद्धति लेनदेन को काफी सस्ता भी बनाती है।
  2. इसके स्पष्ट लाभों के बावजूद, बाज़ार में इसकी विवादास्पद प्रतिष्ठा के कारण ब्लॉकचेन को बड़े पैमाने पर अपनाया नहीं गया है।

वित्त के लिए ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी का महत्व

लेन-देन और सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए पूरी तरह से विकेंद्रीकृत, सुरक्षित और सीधे तरीके के रूप में, ब्लॉकचेन तकनीक वैश्विक वित्तीय प्रणाली के लिए बिल्कुल उपयुक्त है। ब्लॉकचेन का आविष्कार और लोकप्रियकरण मौजूदा वित्तीय प्रणालियों की कई कमियों के कारण शुरू हुआ। 

ब्लॉकचेन के आविष्कार की आवश्यकता

ब्लॉकचेन की शुरुआत से पहले, दुनिया भर का वित्तीय पारिस्थितिकी तंत्र अत्यधिक नौकरशाही, गोपनीयता से रहित और कुछ मामलों में बेहद महंगा हो गया था। इस जटिल वित्तीय प्रणाली का सबसे बड़ा शिकार अंतर्राष्ट्रीय लेनदेन होते थे। ब्लॉकचेन के बिना, एक साधारण अंतरराष्ट्रीय भुगतान के लिए सभी जांच पूरी करने और पुष्टि करने के लिए कम से कम पांच कार्यदिवसों का समय लगता है। 

बेशक, इस साधारण धन हस्तांतरण के लिए महत्वपूर्ण शुल्क भी देना होगा, और कई वित्तीय संस्थाएं आपके लेनदेन की निगरानी और विश्लेषण करेंगी। इसलिए, गोपनीयता और गुमनामी का तो कोई सवाल ही नहीं है। यह साधारण सी उदाहरण इस बात पर ज़ोर देती है कि 21वीं सदी में वैश्विक वित्तीय प्रणाली कितनी बेकार हो गई है।

दुनिया भर की वित्तीय कंपनियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काम करने के लिए इस जटिल इकोसिस्टम में प्रवेश करने की आवश्यकता होती है। इसलिए, दुनिया भर में लेनदेन करने की आवश्यकता ने कई संस्थाओं को अत्यधिक जटिल वित्तीय प्रथाओं को अपनाने के लिए मजबूर कर दिया है।  

दुनिया भर के व्यापारी, निवेशक और व्यवसाय अनावश्यक जटिलता के स्तर से अधिक परेशान हो गए थे, और यही कारण है कि 2010 के अंत में ब्लॉकचेन तकनीक और क्रिप्टोकरेंसी ने इतनी गति प्राप्त की। आख़िरकार, ब्लॉकचेन की इनोवेटिव पद्धतियों ने पूरी तरह से वित्तीय संचालन के नए तरीकों की पेशकश की।  

ब्लॉकचेन क्रांति में आप भी शामिल हों

ब्लॉकचेन की वितरित बहीखाता तकनीक, विकेंद्रीकृत प्रकृति, कम शुल्क और एन्क्रिप्टेड सुरक्षा ने वित्तीय प्रणाली को पूरी तरह से बदल दिया। अब, दुनिया भर के ग्राहकों के लिए सिर्फ एक जटिल फिएट लेनदेन का उपयोग करना ही एकमात्र विकल्प नहीं रह गया है। ब्लॉकचेन एक व्यवहार्य और आकर्षक विकल्प था जिससे इसमें शामिल सभी पक्षों को लाभ हो सकता था। 

जैसे कि चर्चा की गई, वित्तीय क्षेत्र की मुख्य समस्याएं धीमी गति से होने वाले लेनदेन, बहुत अधिक शुल्क, पारदर्शिता की कमी और गोपनीयता थीं। ब्लॉकचेन की विशेषताओं ने इन समस्याओं का समाधान प्रदान करने के साथ-साथ कई अन्य सुविधाएं भी शामिल की। 

ब्लॉकचेन अपनाने की धीमी प्रक्रिया 

पहले से मौजूद वित्तीय कमियों के आधुनिक समाधानों के बावजूद भी ब्लॉकचेन नेटवर्क महत्वपूर्ण रूप से अपना दबदबा कायम करने में असफल रहा। ऐसा अलग-अलग जटिलताओं और स्थितियों के कारण हुआ। सबसे पहले, एक अच्छी तरह से स्थापित प्रणाली से नई पद्धति में परिवर्तन करना चुनौतीपूर्ण, समय लेने वाला और अत्यधिक महंगा होता है। 

इसके अलावा, क्रिप्टो परिदृश्य में धोखाधड़ी, डिजिटल अपराधों और अन्य संदिग्ध प्रथाओं से संबंधित विवादों का भी काफी बोलबाला रहा। हालाँकि यह सीधे तौर पर इस तकनीक से संबंधित नहीं है, फिर भी क्रिप्टो की कुख्यात स्थिति ने पूरे ब्लॉकचेन उद्योग को नकारात्मक रूप से प्रभावित किया है। 

हालाँकि कई कंपनियाँ अभी भी अपने आईटी बुनियादी ढांचे के भीतर ब्लॉकचेन तकनीक को लागू करने को लेकर असमंजस में हैं, लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि ब्लॉकचेन तकनीक को मुख्य रूप से वित्त क्षेत्र के लिए ही विकसित किया गया था। इसकी विशेषताएं और उपयोगिताएँ स्थानीय और वैश्विक स्तर पर वित्तीय प्रक्रियाओं को बेहद अच्छे ढ़ंग से समर्थन देती हैं। 

यहां तक ​​कि पारंपरिक वित्तीय संस्थान भी समान परिणाम प्राप्त करने के लिए लागत, संसाधनों और समय में कटौती करके इस तकनीक से बहुत लाभ उठा सकते हैं। कई वित्तीय संस्थानों ने पहले ही ब्लॉकचेन प्रथाओं को लागू करना शुरू कर दिया है, और आज, ब्लॉकचेन बाजार पर वित्तीय उद्योग प्रतिभागियों का वर्चस्व कायम है। 

वित्तीय सेवा उद्योग के लिए स्मार्ट अनुबंधों का व्यावहारिक मूल्य

हालांकि ब्लॉकचेन की प्रतिष्ठा और विभिन्न बाजार कारक वैश्विक रूप से इसे अपनाए जाने के रास्ते में खड़े हो सकते हैं, लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि वित्तीय कंपनियों को इस अत्याधुनिक तकनीक के कई लाभ हैं। 

भुगतान सेवाओं, बचत खातों, निवेश और अन्य सुविधाओं के साथ ग्राहकों को सेवा प्रदान करने वाले किसी भी वित्तीय संस्थान को एक तेज़ लेनदेन मंच की आवश्यकता होती है। केंद्रीय बैंकों से लेकर उद्यम पूंजी फर्मों तक, लगभग हर बड़ी वित्तीय इकाई अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लेनदेन करती है, यह इसमें शामिल सभी पक्षों के लिए काफी समय लेने वाली और महंगा प्रक्रिया होती है। 

ब्लॉकचेन का उपयोग करके, ये कंपनियां नाटकीय रूप से अपनी सेवा अवधि को कम कर सकती हैं, और इसके आलावा वे शानदार मुनाफा कमाते हुए अपने सेवा शुल्क में भी कमी लाते हुए अपने ग्राहकों को अभूतपूर्व सुरक्षा प्रदान कर सकती हैं। लेकिन ब्लॉकचेन तकनीक यह सब कैसे कर पाती है? आइए इस बारे में चर्चा करते हैं: 

ऑगमेंटेड वित्तीय लेनदेन

क्रिप्टोकरेंसी और अन्य ब्लॉकचेन उत्पाद डिजिटल संपत्तियां हैं जो ब्लॉकचेन नेटवर्क के माध्यम से अविश्वसनीय दरों पर स्थानांतरित होती हैं। ये हर घंटे व्यापक प्रसंस्करण के लिए नहीं रूकती या फिर तीसरे पक्ष की भागीदारी के कारण बाधित नहीं होती। परिणामस्वरूप, कोई भी क्रिप्टो लेनदेन पारंपरिक फिएट तरीके की तुलना में स्वाभाविक रूप से तेज़ और अधिक कुशल होता है। 

तेज़ लेनदेन के कारण यह एक साधारण लेन-देन से काफी ज़्यादा होता है। लेन-देन प्रसंस्करण की इस तीव्र गति से कई कंपनियों को काफी लाभ हो सकता है। ब्लॉकचेन की गति बैंकों, निवेश फंडों और एक्सचेंज प्लेटफॉर्म से लेकर संपूर्ण शेयर बाजारों में वृद्धि की सुविधा प्रदान कर सकती है। . 

2023 तक, कई स्टॉक एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म अपने लेनदेन प्रवाह को अपने उपयोगकर्ताओं के लिए तेज़ और अधिक सुविधाजनक बनाने के लिए ब्लॉकचेन तकनीक को अपनाने में रुचि दिखा चुके हैं। यहां तक ​​कि इसी कारणवश लंदन स्टॉक एक्सचेंज, जो दुनिया के सबसे बड़े शेयर बाजारों में से एक है, इसने भी ब्लॉकचेन परिदृश्य में हाथ आजमाना शुरू कर दिया है। 

उन्नत सुरक्षा 

ब्लॉकचेन का अन्य महत्वपूर्ण पहलू वित्तीय संस्थाओं के लिए सुरक्षा और स्वचालन संभावनाएं हैं। जबकि वित्तीय संचालन में सुधार के लिए गति और तेज़ी एक मुख्य कारक है, फिर भी वित्तीय संस्थाओं के लिए ब्लॉकचेन पैकेज को व्यवहार्य बनाने के लिए सुरक्षा भी अतिआवश्यक है। 

इस बिंदु पर, ब्लॉकचेन की एन्क्रिप्शन ताकत व्यापक रूप से एक ज्ञात और प्रसिद्ध तथ्य बन गया है। अधिकांश साइबर हमलावरों के लिए इस डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र को हैक करना लगभग असंभव है। वितरित बहीखाता तकनीक यह भी सुनिश्चित करती है कि सारी प्रक्रिया बेहद गोपनीय और सुरक्षित रहे, इसलिए प्रसंस्करण के दौरान आपके लेनदेन खोएंगे नहीं या फिर चोरी नहीं होंगे। 

तो, ऐसे मजबूत रक्षात्मक पारिस्थितिकी तंत्र के साथ, वित्तीय कंपनियां ब्लॉकचेन को अपनाने से दोहरा लाभ प्राप्त कर सकती हैं। सबसे पहले, वे कंपनियां यह सुनिश्चित कर सकती हैं कि उनकी विशाल धनराशि बिना किसी रुकावट और विस्थापन के बड़े खतरों के ही स्थानांतरित हो रही है। दूसरा, वित्तीय संस्थाओं को प्रतिस्पर्धात्मक लाभ होगा – जिससे उनके ग्राहकों को उनके खातों, निवेश और अन्य वित्तीय लेनदेन के संबंध में मानसिक शांति मिलेगी। 

स्वचालन के अवसर

शानदार सुरक्षा और बेजोड़ गति के अलावा, ब्लॉकचेन स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट के साथ स्वचालन की संभावनाएं भी प्रदान करती है। स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट ब्लॉकचेन की मुख्य विशेषताओं में से एक है, जो डेवलपर्स को अपरिवर्तनीय और कुशल कोड बनाने की सुविधा प्रदान करते हैं, जो विभिन्न कार्यों को स्वचालित रूप से निष्पादित कर सकते हैं। स्वचालित भुगतान और सूचनात्मक आदान-प्रदान से लेकर व्यापार वित्त में त्वरित संचालन तक, स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट के व्यावहारिक रूप से अंतहीन उपयोग हो सकते हैं। 

हालांकि, मानक ऑटोमेशन के विपरीत, SCs अत्यधिक एन्क्रिप्टेड, अपरिवर्तनीय और अपरिहार्य होते हैं। सुरक्षा की यह अतिरिक्त परत बीमा कंपनियों और अन्य संस्थाओं के लिए उत्कृष्ट है, क्योंकि इन्हें अक्सर नियमित कारण-और-प्रभाव अनुबंधों की आवश्यकता होती है। इसके अलावा, स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट्स ऑनलाइन बैंकों के लिए ग्राहकों से ब्याज दरें वितरित करने या लेने, ऋण पुनर्गठन आदि निष्पादित करने में भी मददगार साबित हो सकते हैं। 

वित्तीय मध्यस्थों की कम आवश्यकता

उपरोक्त लाभों के अलावा, इसके कारण हमारे पास निर्बाध, और सीधे लेनदेन की सुविधा होती है जिसको रास्ते में कई जांचों से गुज़रने की आवश्यकता नहीं होती। पारंपरिक फिएट ऑपरेशंस के विपरीत, क्रिप्टो लेनदेन एक ही प्लेटफार्म पर सभी सुरक्षा, एन्क्रिप्शन और जरूरी निरीक्षण सुविधाएं प्रदान करता है।

इसका मतलब है कि आपके भुगतान और अन्य वित्तीय संचालन कई केंद्रीय बैंकों और समान प्राधिकरणों के माध्यम से नहीं गुज़रते। इस प्रकार, ब्लॉकचेन लेनदेन में गोपनीयता और गुमनामी का उच्च स्तर बना रहता है। 

अब, अधिकांश मामलों में प्रत्येक वित्तीय संस्थान अपने संबंधित ग्राहकों के लिए एकमात्र आवश्यक प्रतिपक्ष होता है। हालांकि यह कुछ व्यक्तियों के लिए सही सिद्ध हो सकता है लेकिन कई संभावित ग्राहक अपनी गोपनीयता और गुमनामी (कानूनी सीमा के भीतर) को महत्व देते हैं। इसलिए, ऐसी गोपनीयता प्रदान करने का अवसर मिलने से बड़े लक्षित दर्शकों को आकर्षित करने की संभावना बढ़ जाती है।

कम लागत

अंतिम लेकिन महत्वपूर्ण बात, ब्लॉकचेन तकनीत फिएट मुद्रा का एक सस्ता विकल्प है। जबकि कुछ लोग सस्ते विकल्पों को घटिया मानते हैं लेकिन ब्लॉकचेन ने सरल समाधानों के साथ ग्राहकों को महत्वपूर्ण लेनदेन लागत से बचा लिया है। जैसे कि ऊपर चर्चा की गई है, फिएट लेनदेन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर और कभी-कभी स्थानीय स्तर पर भी कई वित्तीय संस्थाओं के माध्यम से होते हैं। 

इन सभी वित्तीय संस्थाओं को अपने हिस्से के शुल्क की आवश्यकता होती है। हालाँकि इनका व्यक्तिगत शुल्क हल्का हो सकता है, लेकिन इन शुल्कों को जमा कर के देखें तो महत्वपूर्ण लेनदेन लागतें काफी बढ़ जाती हैं। अंत में, व्यक्तियों और व्यवसायों को औसत राशि का तीन या चार गुना भुगतान करना पड़ता है। 

अतीत में, अनावश्यक रूप से यह महंगी प्रक्रिया ही बाज़ार में मौजूद एकमात्र विकल्प थी। लेकिन ब्लॉकचेन तकनीक के आ जाने के बाद अब ऐसा नहीं है। चूंकि क्रिप्टो लेनदेन एक ही ब्लॉकचेन नेटवर्क के भीतर निष्पादित होते हैं, इसलिए आपको केवल संबंधित गैस शुल्क का ही भुगतान करना होगा, जो एक लेनदेन प्रोटोकॉल को निष्पादित करने की “ईंधन” लागत होती है। 

हालाँकि गैस शुल्क अलग-अलग प्लेटफ़ॉर्म पर अलग-अलग होता है, लेकिन वे संबंधित फ़िएट विकल्पों की तुलना में काफी कम होते हैं। कम शुल्क से कई वित्तीय क्षेत्रों को काफी मदद मिलेगी। उदाहरण के लिए, कम शुल्क के कारण व्यापार वित्त क्षेत्र फल-फूल सकता है, क्योंकि कम शुल्क के कारण व्यक्तिगत व्यापारियों और ब्रोकरेज फर्मों को अधिक सक्रिय रूप से और बड़ी मात्रा में व्यापार करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। 

बड़े पैमाने पर ब्लॉकचेन अपनाने के संभावित जोखिम

हालांकि ब्लॉकचेन अपनाने के अंतहीन लाभ प्रतीत होते हैं, लेकिन फिर भी हमें कुछ जोखिमों और कमियों का भी उल्लेख करना होगा जो समग्र ब्लॉकचेन पैकेज को नकार सकते हैं। याद रखें कि यह अभी भी एक उभरती हुई टेक्नोलॉजी है, और इसे कई अनिश्चितताओं का सामना करना पड़ सकता है। 

विनियमों की अनिश्चितता

ब्लॉकचेन के साथ सबसे ज़्यादा विचार किया जाने वाला मुद्दा है नियामक हस्तक्षेप। इस डिजिटल तकनीक की अंतर्निहित गुमनामी का मतलब है कि इसके कारण अपराध और संदिग्ध प्रथाओं के कई खतरे भी मौजूद हैं। आख़िरकार, गुमनामी दो धारी तलवार की तरह है – यह नियमित ग्राहकों को समायोजित तो करती है लेकिन साथ ही साथ संदिग्ध व्यक्तियों को हेरफेर और, कभी-कभी, आपराधिक गतिविधियों का मौका भी देती है। 

इसलिए, क्रिप्टो परिदृश्य में इन विनियमों की शुरूआत कोई आश्चर्य वाली बात नहीं थी। वास्तव में, इस उद्योग और प्रौद्योगिकी के ठीक से और जोखिम के बिना काम करने के लिए विनियम लागू करने काफी आवश्यक थे। हालाँकि, यह बताना लगभग असंभव है कि ये नियम तर्क से परे सख्त होंगे या नहीं। चूंकि कई धोखाधड़ी के तंत्र और अन्य हानिकारक प्रथाएं मौजूद हैं, इसलिए विभिन्न सरकारों ने ब्लॉकचेन के लिए अपने नियामक उपायों को बढ़ा दिया है। 

2023 में पहले से ही ब्लॉकचेन से संबंधित कई सख्त नियम देखे जा चुके हैं, और यह प्रवृत्ति संभवतः जारी रहेगी। हालांकि नियम उचित दायरे में रखे जा सकते हैं, लेकिन यह भी संभव है कि नए कानून ब्लॉकचेन की स्वतंत्रता, गति और गुमनामी को गंभीर रूप से सीमित कर दें। अधिकारियों द्वारा लागू किए गए नए अनिवार्य संचालन के कारण भविष्य में इनकी कम लागत भी बढ़ सकती है। 

समग्र बाज़ार में अस्थिरता

ब्लॉकचेन तकनीक का उपयोग करने के लिए एक वित्तीय इकाई को खुद को क्रिप्टोकरेंसी से जोड़ना होगा। खैर, बाज़ार में कई उदार विकल्प मौजूद हैं, लेकिन संपूर्ण क्रिप्टो उद्योग ही अपेक्षाकृत रूप से काफी अस्थिर होता है। हालाँकि स्टेबल कॉइन्स जैसे सुरक्षित विकल्प उपलब्ध हैं, लेकिन ये क्रिप्टो कॉइन्स भी फ़िएट मुद्राएँ जैसी स्थिरता प्रदान नहीं करते। 

इसलिए, अत्याधुनिक ब्लॉकचेन तकनीक को अपनाने के बावजूद भी आपको अंतर्निहित अस्थिरता जोखिमों से निपटने की ज़रूरत होगी। हालांकि इस उच्च मूल्य भिन्नता को विविधीकरण, विकल्प अनुबंध और अन्य उपकरणों के साथ प्रबंधित किया जा सकता है, लेकिन फिर भी नुकसान की संभावनाओं को पूरी तरह से खत्म करने के लिए कोई भी विकल्प उपलब्ध नहीं हैं। इसलिए, ब्लॉकचेन अपनाने पर विचार करने के दौरान प्रत्येक वित्तीय कंपनी को एक मुश्किल निर्णय लेना पड़ता है। 

सारांश

वित्तीय परिदृश्य को बदलने के लिए बनाई गई, ब्लॉकचेन तकनीक ने संघर्षों और चुनौतियों सबका सामना किया है। हालाँकि, वित्तीय उद्योग के लिए इनका अंतर्निहित मूल्य काफी आकर्षक बना हुआ है। 2023 तक, ब्लॉकचेन तकनीक ने ऊपर का रुख अपनाया हुआ है क्योंकि यह उद्योग धीरे-धीरे कंपनियों के संचालन के लिए अधिक परिपक्व और सुरक्षित होता जा रहा है। 

कई बड़े निगमों द्वारा ब्लॉकचेन तंत्र के कुछ हिस्सों को अपनाए जाने के साथ, कई अन्य वित्तीय बाजार भी धीरे-धीरे लेकिन निश्चित रूप से ब्लॉकचेन को अपनाने के लिए तैयार हो रहे हैं। लेकिन, हम अभी भी ब्लॉकचेन की पूरी क्षमता और वित्तीय परिदृश्य पर इसके प्रभाव जानने से बहुत दूर हैं। 

इस संतुलन को प्राप्त करने के लिए, ब्लॉकचेन को मुक्त बाजार, नियामक निकायों और अन्य उद्योग प्रतिभागियों द्वारा भेजी गई चुनौतियों का सामना करना होगा। यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या ब्लॉकचेन तकनीक विजयी होती है और क्या यह लगभग दो दशक पहले किए गए अपने शुरुआती वादे को पूरा कर पाएगी।

द्वारा

Levan Putkaradze

गहरी वित्तीय पृष्ठभूमि वाला एक अनुभवी कॉपीराइटर और सुलभ, आकर्षक और मूल्यवान सामग्री तैयार करने की क्षमता। मैं इस क्षेत्र में आकर्षक सामग्री तैयार करके फिनटेक और क्रिप्टो की दुनिया के रहस्यों को उजागर करता हूं। मेरा मानना है कि हर जटिल अवधारणा, विचार और कार्यप्रणाली को समझने योग्य और रोमांचक तरीके से प्रस्तुत किया जा सकता है, और हर नए विषय के साथ उस तरीके को खोजना मेरा काम है। मैं लगातार खुद को ऐसी सामग्री तैयार करने के लिए चुनौती देता हूं जो अपने लक्षित दर्शकों के लिए अपरिहार्य मूल्य रखती है, जिससे पाठकों को बिना किसी परेशानी के तेजी से जटिल विचारों को समझने में मदद मिलती है।

और पढ़ेंLinkedin

शुद्धिकारक

Constantine Belov

एक कड़ी मेहनत करने वाले, लक्ष्य-उन्मुख और सर्वगुण संपन्न व्यक्ति के रूप में, मैं हमेशा अपने हर काम में गुणवत्तापूर्ण काम करने का प्रयास करता हूं। जीवन में चुनौतीपूर्ण कार्यों का सामना करते हुए, मैंने समस्याओं को हल करने के लिए तर्कसंगत और रचनात्मक रूप से सोचने की आदत विकसित की है, जो न केवल मुझे एक व्यक्ति के रूप में, बल्कि एक पेशेवर के रूप में भी विकसित होने में मदद करती है।

और पढ़ेंLinkedin
शेयर