इस लेख में

एक कड़ी मेहनत करने वाले, लक्ष्य-उन्मुख और सर्वगुण संपन्न व्यक्ति के रूप में, मैं हमेशा अपने हर काम में गुणवत्तापूर्ण काम करने का प्रयास करता हूं। जीवन में चुनौतीपूर्ण कार्यों का सामना करते हुए, मैंने समस्याओं को हल करने के लिए तर्कसंगत और रचनात्मक रूप से सोचने की आदत विकसित की है, जो न केवल मुझे एक व्यक्ति के रूप में, बल्कि एक पेशेवर के रूप में भी विकसित होने में मदद करती है।

और पढ़ेंLinkedin

शुद्धिकारक

Tamta Suladze

तमता जॉर्जिया में स्थित एक कंटेंट राइटर है, जिसके पास समाचार आउटलेट, ब्लॉकचेन कंपनियों और क्रिप्टो व्यवसायों के लिए वैश्विक वित्तीय और क्रिप्टो बाजारों को कवर करने का पांच साल का अनुभव है। उच्च शिक्षा की पृष्ठभूमि और क्रिप्टो निवेश में व्यक्तिगत रुचि के साथ, वह नए क्रिप्टो निवेशकों के लिए जटिल अवधारणाओं को आसानी से समझने वाली जानकारी में तोड़ने में माहिर हैं। तमता का लेखन पेशेवर और प्रासंगिक दोनों है, जिससे यह सुनिश्चित होता है कि उसके पाठकों को मूल्यवान अंतर्दृष्टि और ज्ञान प्राप्त हो।

और पढ़ेंLinkedin
शेयर

IEO क्या है, और यह ICO से बेहतर क्यों है?

आर्टिकल्स

Reading time

क्रिप्टो क्षेत्र के विकास और इसके क्रमिक परिवर्तन का वित्तीय दुनिया के कई क्षेत्रों पर ठोस प्रभाव पड़ा है। इससे आम उपयोगकर्ताओं की ओर से नवीन क्रिप्टो समाधान और क्रिप्टो ट्रेडिंग दोनों की मांग में लगातार बढ़त मिली है। 

इसके अलावा, क्रिप्टो बाज़ार में कई अप्रत्याशित घटनाओं, अप्रिय स्थितियों के कारण नियामकों की रुचि बढ़ रही है। इन घटनाओं से क्रिप्टो ट्रेडरों और निवेशकों के विश्वास में कमी आई है।

बाज़ार सहभागियों की ओर से विश्वास की कमी क्रिप्टो प्रोजेक्ट बनाने के नए तरीकों के उद्भव के लिए एक उत्प्रेरक बन गई है, जिनमें मौजूदा प्रोजेक्टों के समान ही विशेषताएँ हैं लेकिन एक अलग अवधारणा के साथ। इनमें से एक प्रकार IEO (Initial Exchange Offering) है।

यह लेख समझाएगा कि IEO क्या होता है, इसके लाभ और नुकसान क्या हैं, साथ ही IEO को खुद से शुरू करने के चरणों के बारे में भी क्रम वार बताया जाएगा।

मुख्य बातें

  1. IEO एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें बाद की बिक्री के लिए एक्सचेंज के माध्यम से टोकन के ऑर्डर प्लेस किए जाते हैं, जिसमें इच्छुक पार्टियों द्वारा निवेश निधि का प्रावधान भी शामिल होता है।
  2. IEP प्रक्रिया में ICO के साथ की कुछ समानताएँ हैं लेकिन यह इसका एक नया संस्करण है, जो टोकन के ऑर्डर प्लेस करने वाली कंपनी को कुछ सुरक्षा गारंटी प्रदान करने में मदद करता है।
  3. IEO आपको क्रिप्टो क्षेत्र में अमूल्य अनुभव प्राप्त करने की अनुमति देता है, साथ ही क्रिप्टो के प्रोजेक्टों के साथ काम करने के लिए आवश्यक ज्ञान, विशेष रूप से क्रिप्टो एक्सचेंजों पर ट्रेड करने की अनुमति देता है।

IEO क्या होता है?

तो, IEO का मतलब क्या है? इनिशियल एक्सचेंज ऑफ़रिंग (IEO) यानि आरंभिक विनिमय पेशकश एक बढ़िया से स्थापित क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म के माध्यम से टोकन बेचने की एक विधि है। इसका उद्देश्य निवेशकों को टोकन बिक्री करने का एक नया तरीका प्रदान करके इनिशियल कॉइन ऑफ़रिंग (ICO) यानि प्रारंभिक कॉइन पेशकश (ICO) में हुई विश्वास की कमी को संबोधित करना है। 

हालाँकि IEO का उद्देश्य ICO के समान ही है, लेकिन इसकी प्रक्रिया और संचालन प्लेटफ़ॉर्म काफी अलग हैं। IEO के साथ, निवेशक टोकन की बिक्री में भाग लेने के लिए स्थापित एक्सचेंज की विश्वसनीयता और सुरक्षा का लाभ उठा सकते हैं। IEO ब्लॉकचेन प्रोजेक्टों में निवेश का अधिक सुरक्षित, पारदर्शी और विनियमित तरीका प्रदान कर सकते हैं।

IEO process flow

पिछले कुछ वर्षों में ICO से जुड़े कई धोखाधड़ी के मामलों को देखते हुए, उद्यमियों और स्टार्टअप्स ने क्रिप्टोकरेंसी बाज़ार में फंड्स एकत्रित करने के लिए IEO को लॉन्च करना पसंद किया है। ICO उद्योग में निवेशकों के बीच भरोसे और विश्वास की कमी ने नई कंपनियों को फंड्स एकत्रित करने के लिए ICO का उपयोग करने से परहेज़ करने के लिए प्रेरित किया है। 

stages of launching the IEO

हालाँकि, IEO केवल एक ही व्यवहार्य विकल्प है, क्योंकि कई अन्य विकल्प प्रभावी साबित हुए हैं। इनमें सुरक्षा टोकन पेशकश यानि सिक्योरिटी टोकन ऑफ़रिंग (STO), प्रारंभिक टोकन पेशकश यानि इनिशियल टोकन ऑफ़रिंग (ITO), और प्रारंभिक विकेन्द्रीकृत विनिमय पेशकश यानि इनिशियल डेन्ट्रलाइज़्ड ऑफरिंग (ITO)शामिल हैं। इस प्रकार, IEO और ICO के बीच चुनाव आवश्यक रूप से द्विआधारी नहीं है, और कंपनियों के पास क्रिप्टोकरेंसी बाज़ार में फंड्स एकत्रित करते समय विचार करने के लिए कई विकल्प मौजूद हैं।

IEO एक विकासवादी रूप है ICO का जिसे संचालन में कई विश्वास मुद्दों के परिणामस्वरूप ICO को बदलने के लिए बाद में लाया गया।

कुछ आवश्यक बातें

IEO के विक्रय बिंदु और कमियाँ

IEO की प्रक्रिया नए क्रिप्टो प्रोजेक्टों को लॉन्च करने में एक नवाचार है। ICO की तरह ही, इसकी अपनी विशिष्टताएँ, लाभ और नुकसान हैं, साथ ही इसे संचालित करने की बारीकियाँ भी हैं, जो नए क्रिप्टो प्रोजेक्टों को लॉन्च करने से पहले आवश्यक ज्ञान और अनुभव की आवश्यकता पैदा करती है। 

आइए IEO के लाभ और नुकसान पर आगे विस्तार से विचार करें।

IEO के विक्रय बिंदु

आइए IEO की प्रक्रिया द्वारा पेश किए गए सकारात्मक पहलुओं से शुरुआत करें।

विश्वास

टोकन की बिक्री करते समय, यदि इसे एक प्रतिष्ठित क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म के माध्यम से किया जाता है, तो निवेशकों द्वारा इस प्रक्रिया में विश्वास और भरोसा प्रदर्शित करने की अधिक संभावना होती है। इसके अलावा, ऐसा विकल्प IEO के अभियान को अधिक वैधता और विश्वसनीयता भी प्रदान करता है, जिससे भविष्य में और निवेश आकर्षित करने की संभावना बढ़ जाती है। 

इसे देखते हुए, व्यवसायों और उद्यमियों को अपनी टोकन बिक्री के लिए चुने गए प्लेटफ़ॉर्म पर सावधानीपूर्वक विचार करना चाहिए, क्योंकि यह उनके प्रोजेक्ट की समग्र सफलता पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाल सकता है।

क्रिप्टो एक्सचेंजों के प्लेटफ़ॉर्मों का समर्थन

IEO के मॉडल को मध्यस्थ क्रिप्टोक्यूरेंसी एक्सचेंज प्लेटफ़ार्मों के माध्यम से निष्पादित किया जाता है, जो उच्च विश्वसनीयता और दक्षता प्रदान करते हैं। ये एक्सचेंज लेनदेन की निगरानी करते हैं, पारदर्शिता सुनिश्चित करते हैं और धोखाधड़ी की गतिविधियों के जोखिम को कम करते हैं। 

इसके अतिरिक्त, वे विकास और IEO विज्ञापनों में महत्वपूर्ण सहायता प्रदान कर सकते हैं, जो IEO की सफलता को और बढ़ा सकता है। इसलिए, प्रतिष्ठित एक्सचेंजों के माध्यम से संचालित IEO संभवतः सुचारू रूप से चलेंगे और व्यवसायों और निवेशकों के लिए अधिक सुरक्षित और सुव्यवस्थित फंड्स एकत्रित करने वाले तरीके की पेशकश करेंगे।

भरोसा

क्रिप्टोकरेंसी उद्योग में क्राउडफंडिंग के लिए IEO ने ICO की जगह ले ली है एक ज़्यादा भरोसेमंद साधन के रूप में। IEO का प्राथमिक लाभ उनकी विश्वसनीयता है। IEO क्रिप्टोक्यूरेंसी एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म पर आयोजित किए जाते हैं, इसलिए एक्सचेंज जो है वो IEO लॉन्च करने के इच्छुक हर एक प्रोजेक्ट की स्क्रीनिंग करते हैं। 

इसे एक्सचेंज की प्रतिष्ठा की रक्षा के लिए टोकन जारीकर्ताओं की गहन जाँच करके किया जाता है। परिणामस्वरूप, IEO उन निवेशकों के लिए अधिक विश्वसनीय विकल्प बन गया है जो धोखाधड़ी के कम जोखिम के साथ वैध क्रिप्टोकरेंसी परियोजनाओं में निवेश करना चाहते हैं।

IEO में भाग लेने के इच्छुक निवेशक आश्वस्त हो सकते हैं कि पेशकश की सुविधा देने वाले प्लेटफ़ॉर्म ने परियोजना की अच्छे से जाँच की है। यह बईमानी की गतिविधि के जोखिम को कम करने का कार्य करता है। हालाँकि, यह ज़रूरी है कि निवेशक निवेश के किसी भी निर्णय को लेने से पहले गहन शोध करें, जैसा कि किसी भी अन्य निवेश के साथ किया जाता है। 

हालाँकि IEO एक निश्चित स्तर के विनियमन को प्रदान करते हैं, परियोजना की विफलता की संभावना को केवल आंशिक रूप से ही समाप्त किया जा सकता है। ऐसे में, निवेशकों को सलाह दी जाती है कि वे अपनी निर्णय लेने की प्रक्रिया को ध्यान पूर्वक करें।

लिस्टिंग

यह एक ऐसी क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज के लिए प्रथागत है, जहाँ क्राउड सेल के समापन के बाद कॉइन को लिस्ट करने के लिए एक IEO आयोजित किया जाता है। बिक्री के बाद की यह लिस्टिंग IEO प्रक्रिया की समग्र सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और निवेशकों को लिस्ट किए गए नए कॉइन का ट्रेड करने के लिए एक प्लेटफ़ॉर्म प्रदान करती है। 

एक्सचेंज की आंतरिक नीतियों और विनियमों के अधीन लिस्टिंग प्रक्रिया में आम तौर पर कॉइन की तकनीकी विशिष्टताओं, बाज़ार की क्षमता और समग्र मूल्य प्रस्ताव की गहन समीक्षा शामिल होती है। 

इसलिए, IEO के जारीकर्ता के लिए यह सुनिश्चित करना अनिवार्य है कि उनका कॉइन एक्सचेंज के लिस्टिंग मानदंडों और मानकों के साथ-साथ IEO की श्वेत पत्र (वाइट पेपर) आवश्यकताओं के अनुरूप भी हो।

अनन्य पहुँच

IEO ऐसे विशेष निवेश अवसर हैं जो केवल एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म के मौजूदा सदस्यों को ही प्रदान किए जाते हैं और आम जनता के लिए उपलब्ध नहीं होते हैं। इस प्रकार की पेशकश निवेशकों को नई टोकन बिक्री में भाग लेने के लिए एक सुरक्षित और नियंत्रित वातावरण प्रदान करने के लिए डिज़ाइन की गई है। 

ICO के विपरीत, IEO में एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म द्वारा एक जाँच प्रक्रिया शामिल होती है, जो बिक्री के लिए टोकन को लिस्ट करने से पहले प्रोजेक्ट और उसकी टीम की वैधता की पुष्टि करती है। इससे निवेशकों को प्रोजेक्ट में और सर्वोत्तम IEO एक्सचेंजों के साथ इसके सहयोग के ढाँचे में इसकी सफलता की संभावना पर अधिक विश्वास होता है।

IEO की कमियाँ

चलिये, अब कुछ ऐसे महत्वपूर्ण नुकसानों पर गौर करने का समय आ गया है जो IEO की प्रक्रिया में अन्य क्रिप्टो प्रोजेक्ट लॉन्च के प्रारूपों की तुलना में हैं

क्रिप्टो पंप और डंप स्कैम

IEO ने क्रिप्टो पंप-एंड-डंप स्कैमों के जोखिम को समाप्त नहीं किया है। इस तरह की धोखाधड़ी वाली गतिविधियाँ धोखेबाज़ों द्वारा की जाती हैं, जो रुचि पैदा करने और कीमतें बढ़ाने के लिए क्रिप्टोकरेंसी के बारे में झूठे प्रचार करते हैं, जिससे उन्हें कीमतें गिरने से पहले लाभ पर अपने शेयर बेचने की अनुमति मिलती है। इस प्रकार, यह आवश्यक है कि निवेशक इन घोटालों का शिकार होने से बचने के लिए उचित ध्यान दें और सतर्क रहें।

विनियमन और अनुपालन का अभाव

क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज प्लेटफ़ार्मों के संबंध में, यह याद रखना आवश्यक है कि सभी प्लेटफ़ार्म एक जैसे नहीं होते हैं। हालाँकि, कुछ प्लेटफ़ॉर्म उचित ध्यान देने और नियमों के पालन को प्राथमिकता दे सकते हैं, लेकिन शायद बाकि ऐसा ना करें। 

इसलिए, कंपनी के लिए सही प्लेटफ़ॉर्म चुनने से पहले अनुसंधान करना और प्रत्येक प्लेटफ़ॉर्म का सावधानीपूर्वक मूल्यांकन करना महत्वपूर्ण है। ऐसा करने से यह सुनिश्चित करना संभव हो जाता है कि विश्वास, निवेश और व्यक्तिगत जानकारी एक विश्वसनीय और सुरक्षित प्लेटफ़ॉर्म पर रखे गए हैं जो ज़रूरतों को पूरा करता है और कंपनी के मूल्यों के साथ संरेखित है।

लिस्टिंग फीस

एक प्रतिष्ठित एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म में लिस्टिंग फ़ीस काफी अधिक हो सकती है। इसके अतिरिक्त, स्टार्टअप्स से टोकन की बिक्री के बाद एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म पर कमीशन भेजने का अनुरोध किया जा सकता है। इसका मतलब यह है कि ऐसे प्लेटफ़ॉर्मों पर टोकन लिस्ट करने की लागत काफी अधिक हो सकती है, और स्टार्टअप को निर्णय लेते समय इस पहलू पर विचार करना चाहिए। 

इसलिए, उच्च फ़ीस प्लेटफ़ॉर्म पर सफलता की गारंटी नहीं देती है, और स्टार्टअप को किसी भी एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म पर अपने टोकन लिस्ट करने की लागत और लाभों का मूल्यांकन करना चाहिए।

IEO कैसे लॉन्च करें? — सर्वश्रेष्ठ गाइड

अब जब की आप जान चुके हैं कि IEO क्या है और इसके लाभ और नुकसान क्या हैं, तो अब यह पता लगाने का समय है कि अनुक्रमिक चरणों की एक श्रृंखला के माध्यम से अपने खुद के IEO प्रोजेक्ट को सफलतापूर्वक कैसे लॉन्च किया जाए, जिनमें से हर एक पूरी प्रक्रिया को आकार देने का एक महत्वपूर्ण पहलू है।

बाज़ार परिदृश्य और विचार विश्लेषण

एक्सचेंज की पहली पेशकश लॉच करने से पहले, मौजूदा बाज़ार परिदृश्य पर विचार करते हुए प्रोजेक्ट की व्यवहार्यता का पूरी तरह से विश्लेषण करना महत्वपूर्ण है। यह सुनिश्चित करने के लिए कि करेंसी बाज़ार में अंतर को संबोधित करे बाज़ार की ज़रूरतों को निर्धारित करना महत्वपूर्ण है। 

गहराई से किया हुआ बाज़ार विश्लेषण यह पता लगाने में मदद कर सकता है कि क्या प्रोजेक्ट संभव है और पेशकश से जुड़े संभावित जोखिमों और पुरस्कारों में मूल्यवान अंतर्दृष्टि प्रदान करता है। इसलिए, प्रारंभिक एक्सचेंज पेशकश को शुरू करने से पहले व्यापक बाज़ार अनुसंधान और विश्लेषण करना आवश्यक है।

इसके अतिरिक्त, एक नई क्रिप्टोकरेंसी लॉन्च करने से पहले, संपूर्ण बाज़ार विश्लेषण करना और संभावित प्रतिस्पर्धियों की ताकत और कमजोरियों की पहचान करना आवश्यक है। इससे आपको मौजूदा बाज़ार समस्याओं का लाभ उठाने और उन्हें अपने प्रोजेक्ट के माध्यम से संबोधित करने में मदद मिलेगी। आपको अपनी मार्केटिंग रणनीति पर भी पूरा ध्यान देना चाहिए। 

प्लानिंग चरण के दौरान, आपको यह सोचने की ज़रूरत है कि आप अपनी करेंसी को संभावित निवेशकों के सामने दिलचस्प और आकर्षक तरीके से कैसे पेश कर सकते हैं। आपका अंतिम लक्ष्य निवेशकों को आपका टोकन खरीदने में अपनी पूंजी निवेश करने के लिए राज़ी करना है।

MVP को तैयार करना

अच्छी तरह से स्थापित क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज विशेष रूप से उन प्रोजेक्टों को लिस्ट करते हैं जिन्होंने महत्वपूर्ण प्रगति की है। नतीजतन, क्रिप्टो एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म पर लॉन्च पर विचार करते समय, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि न्यूनतम व्यवहार्य उत्पाद यानि मिनिमम वाएबल प्रोडक्ट (MVP) या तो पहले से ही उपलब्ध हो या विकास प्रक्रिया में हो।

यह दृष्टिकोण सुनिश्चित करता है कि एक प्रोजेक्ट को एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म और समुदाय द्वारा संभव और भरोसेमंद माना जाए, जो इसकी सफलता के लिए महत्वपूर्ण है।

आपका प्रोजेक्ट शीर्ष एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्मों पर लिस्ट किया जाना चाहिए जो विशिष्ट आवश्यकताओं को पूरा करता हो। उदाहरण के लिए, एक क्रिप्टोकरेंसी वॉलेट प्रदाता ब्रेड (BRD) के केस पर विचार करें। IEO लॉन्च होने से पहले, कंपनी ने पहले ही एक कार्यात्मक एप्लिकेशन विकसित कर ली थी, जिसका उपयोगकर्ता बेस सौ मिलियन से अधिक था।

एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म का चयन

एक बार जब आपके पास एक ठोस अवधारणा हो और आपने विकास के चरण में प्रगति कर ली हो (या एक MVP भी बना लिया हो), तो अगला महत्वपूर्ण कदम एक एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म का चयन करना है। यह निर्णय महत्वपूर्ण है क्योंकि आप जिस प्लेटफ़ॉर्म को चुनेंगे वह प्रतिस्पर्धा की गति निर्धारित करेगा और IEO के ट्रेंड की दिशा को प्रभावित करेगा।

इस प्रकार, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि चयन करने, उचित परिश्रम करने और निवेशकों के साथ जुड़ने के लिए उपयोग की जाने वाली विधियाँ आपके प्रोजेक्ट के अनुरूप हों। एक भरोसेमंद और विश्वसनीय प्लेटफ़ॉर्म चुनना सबसे ज़रूरी है, क्योंकि इसका अपने उपयोगकर्ताओं की निजी कीज़ पर पूर्ण नियंत्रण होगा। उद्योग के अग्रणी एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्मों में KuCoin Spotlight, Huobi Prime, Binance Launchpad और OKEx Jumpstart शामिल हैं।

वाइट पेपर ड्राफ्टिंग 

एक सफल IEO लॉन्च करने के लिए सावधानीपूर्वक शोधित और अच्छी तरह से लिखित श्वेत पत्र यानि वाइट पेपर लिखना महत्वपूर्ण है। जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, एक श्वेत पत्र निवेशकों के लिए आपके प्रोजेक्ट की समझ और मूल्यांकन को सुविधाजनक बनाने, उनके निवेश निर्णयों में सहायता करने में सहायक होता है। एक अकादमिक पेपर की तरह, एक श्वेत पत्र बिक्री प्रस्ताव रखने और पिच करने दोनों के रूप में कार्य करता है और इसे व्यापक, तथ्यात्मक और औपचारिक रूप से प्रस्तुत किया जाना चाहिए।

How to write a white paper

वेबसाइट डिज़ाइन और विकसित करना

एक वेबसाइट उन व्यवसायों के लिए आवश्यक है जो संभावित निवेशकों और योगदानकर्ताओं को सुलभ जानकारी प्रदान करते हैं। इसलिए, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि वेबसाइट ऑनलाइन प्रोजेक्ट का सर्वोत्तम संभावित प्रतिनिधित्व करे। 

इसमें कई महत्वपूर्ण कारकों पर ध्यान देना शामिल है, जैसे वेबसाइट का डिज़ाइन, उपयोगकर्ता इंटरफ़ेस, उपयोगकर्ता अनुभव (UI/UX), लोडिंग स्पीड और सुरक्षा। उत्कृष्ट UI/UX, तेज़ लोडिंग समय और मज़बूत सुरक्षा सुविधाओं के साथ एक अच्छी तरह से डिज़ाइन की गई वेबसाइट सकारात्मक ऑनलाइन उपस्थिति स्थापित करने, आगंतुकों को आकर्षित करने और बनाए रखने और वांछित व्यावसायिक उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए एक अभिन्न अंग है।

अपनी वेबसाइट को अपने श्वेत पत्र के एक ऑनलाइन और आसानी से समझने योग्य संस्करण के रूप में लें। इसे सूचनाप्रद होने के साथ-साथ मनोरम भी होना चाहिए और लोगों को आपके प्रोजेक्ट की प्रगति के बारे में सूचित रखना आवश्यक है। यदि आवश्यक हो तो संभावित निवेशकों को प्रभावित करने वाली साइट बनाने के लिए एक पेशेवर वेब डिज़ाइनर को नियुक्त करने पर विचार करें।

टोकन विकसित करना

टोकन को विकसित करने में निवेशकों के अधिग्रहण के लिए एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म पर लिस्टिंग के लिए टोकन का निर्माण शामिल है। इस प्रक्रिया को शुरू करने से पहले, जारी किए जाने वाले टोकन की संख्या निर्धारित करना और उनका मूल्य निर्धारित करने के लिए एक सिस्टम को स्थापित करना आवश्यक है।

टोकन विकिसत करने की प्रक्रिया को कुशलतापूर्वक और प्रभावी ढंग से क्रियान्वित करना सुनिश्चित करने के लिए ऐसे विचारों का सावधानीपूर्वक मूल्यांकन किया जाना चाहिए। इसके अलावा, टोकन को लिस्ट करने के लिए सबसे उपयुक्त विनिमय प्लेटफ़ॉर्मों की पहचान करने के लिए गहन शोध करना बेहद ज़रूरी है, जो उनके संभावित मूल्य को अधिकतम करने और निवेशकों को आकर्षित करने में मदद करेगा।

how to create a crypto token

टोकन विभिन्न ब्लॉकचेन प्लेटफ़ॉर्मों के माध्यम से बनाए जाते हैं, जिनमें NEO, Ethereum, EOS, आदि शामिल हैं। जबकि Ethereum एक पसंदीदा विकल्प है, अपना टोकन बनाने के लिए आप किसी अन्य ब्लॉकचेन प्लेटफ़ॉर्म का विकल्प चुन सकते हैं। एक ऐसे ब्लॉकचेन प्लेटफ़ॉर्म का चयन करना ज़रूरी है जो बनाए जा रहे टोकन की विशिष्ट आवश्यकताओं के अनुरूप हो।

फंडिंग

IEO की बिक्री में सफलता प्राप्त करने के लिए फंडिंग का लक्ष्य निर्धारित करना अत्यंत महत्वपूर्ण है। फंडिंग के लक्ष्य को तय करते समय IEO की बिक्री में प्रवेश करने वाले टोकन की संख्या पर विचार किया जाना चाहिए। उचित फंडिंग लक्ष्य निर्धारित करने के लिए पर्याप्त तैयारी महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह जोखिमों को कम करने और विफलता से बचने में सहायता कर सकती है। 

इसलिए, बिक्री में सफलता को सुनिश्चित करने के लिए सावधानीपूर्वक की गई प्लानिंग और IEO प्रक्रिया की गहन समझ होना ज़रूरी है।

अपने एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म पर टोकन को लिस्ट करना शुरू करने से पहले अपनी अधिकतम फंडिंग आवश्यकता को स्थापित करना ज़रूरी है। आपको फंडिंग के लिए एक सख्त सीमा (हार्ड कैप) निर्धारित करनी चाहिए, जो कि आपकी परियोजना द्वारा जुटाई जा सकने वाली सबसे अधिक धनराशि हो। इससे निवेशकों को विश्वास मिलेगा कि आपके पास एक स्पष्ट और वास्तविक लक्ष्य है और आप केवल जितना संभव हो उतना पैसा बढ़ाने की कोशिश नहीं कर रहे हैं।

टोकन लिस्टिंग

एक बार जब टोकन की मिंटिंग की प्रक्रिया पूरी हो जाती है तो अगला कदम उन्हें विभिन्न एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्मों पर लिस्ट करना है। यह ध्यान रखना आवश्यक है कि प्रत्येक एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म के पास टोकन लिस्ट करने के लिए नियमों और दिशानिर्देशों का अपना सेट होता है, इसलिए चयन के लिए आवश्यकताओं और मानदंडों को पूरा करना आवश्यक है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि टोकन स्वीकार किए जाते हैं और एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म पर ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध हैं।

एक्सचेंज प्लेटफ़ॉर्म लिस्टिंग नियमों का उचित पालन टोकन की विश्वसनीयता और स्थिरता को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है, जिससे निवेशकों का विश्वास और मांग बढ़ेगी।

प्लेटफ़ॉर्म की उचित ध्यानपूर्वक जाँच और अन्य आवश्यक प्रक्रियाओं के पूरा होने पर, टोकन को आधिकारिक तौर पर एक्सचेंज पर सूचीबद्ध किया जा सकता है, जिससे बिक्री शुरू करने की अनुमति मिलती है।

IEO प्रमोशन के बाद

अंतिम चरण शक्तिशाली IEO मार्केटिंग सेवाओं और टूलों की मदद से नए क्रिप्टो प्रोजेक्ट को सक्रिय रूप से बढ़ावा देना है। इन टूलों में रणनीति की एक विस्तृत श्रृंखला शामिल हो सकती है, जैसे कि संभावित निवेशकों तक पहुँचने के लिए सामाजिक नेटवर्क का उपयोग करना, बैनर और पुस्तिकाओं जैसे प्रिंट विज्ञापन वितरित करना, और अपने प्रोजेक्ट से संबंधित विषयों को कवर करने वाले उच्च गुणवत्ता वाले लेख बनाने के लिए SEO और ब्लॉगिंग टूलों का उपयोग करना। इन युक्तियों के संयोजन का उपयोग करके, आप अपने प्रोजेक्ट की दृश्यता बढ़ा सकते हैं और सफल होने के लिए आवश्यक ध्यान आकर्षित कर सकते हैं।

निष्कर्ष

IEO एक उत्कृष्ट आधुनिक टूल है जो क्रिप्टो एक्सचेंज के माध्यम से टोकन बिक्री की प्रक्रिया की अनुमति देता है, जो कंपनियों को उच्च सुरक्षा, टोकन रखते समय विशेष विशेषाधिकार, साथ ही एक्सचेंज से परिचालन समर्थन के रूप में महत्वपूर्ण लाभ देता है, जो कंपनियों को ईमानदारी, पारदर्शिता और व्यावसायिकता की गारंटी देने की अनुमति देता है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

IEO क्या है?

IEO किसी क्रिप्टो एक्सचेंज के उपयोग से टोकन को बेचने की एक प्रक्रिया है, जिसके बाद प्रचार किया जाता है।

IEO के क्या लाभ हैं?

IEO निवेशकों के लिए बढ़ी हुई सुरक्षा, एक्सचेंज पर लिस्ट होने का अवसर और इसकी पेशकशों और शेयरों तक विशेष पहुँच प्रदान करते हैं।

ऐसे कौन से कारण हैं कि उद्यमी IEO लॉन्च करने पर ध्यान केंद्रित करते हैं?

एक्सचेंज पर टोकन लिस्ट करने, अपने ग्राहक आधार का विस्तार करने और अपने फंड्स बढ़ाने की प्रक्रिया के विस्तार करने की क्षमता के कारण IEO कई उद्यमियों के बीच रुचि बनाता है, जिससे क्रिप्टो प्रोजेक्ट लॉन्च करना आसान हो जाता है।

एक कड़ी मेहनत करने वाले, लक्ष्य-उन्मुख और सर्वगुण संपन्न व्यक्ति के रूप में, मैं हमेशा अपने हर काम में गुणवत्तापूर्ण काम करने का प्रयास करता हूं। जीवन में चुनौतीपूर्ण कार्यों का सामना करते हुए, मैंने समस्याओं को हल करने के लिए तर्कसंगत और रचनात्मक रूप से सोचने की आदत विकसित की है, जो न केवल मुझे एक व्यक्ति के रूप में, बल्कि एक पेशेवर के रूप में भी विकसित होने में मदद करती है।

और पढ़ेंLinkedin

शुद्धिकारक

Tamta Suladze

तमता जॉर्जिया में स्थित एक कंटेंट राइटर है, जिसके पास समाचार आउटलेट, ब्लॉकचेन कंपनियों और क्रिप्टो व्यवसायों के लिए वैश्विक वित्तीय और क्रिप्टो बाजारों को कवर करने का पांच साल का अनुभव है। उच्च शिक्षा की पृष्ठभूमि और क्रिप्टो निवेश में व्यक्तिगत रुचि के साथ, वह नए क्रिप्टो निवेशकों के लिए जटिल अवधारणाओं को आसानी से समझने वाली जानकारी में तोड़ने में माहिर हैं। तमता का लेखन पेशेवर और प्रासंगिक दोनों है, जिससे यह सुनिश्चित होता है कि उसके पाठकों को मूल्यवान अंतर्दृष्टि और ज्ञान प्राप्त हो।

और पढ़ेंLinkedin
शेयर